Home / Headline / पर्यटन मंत्रालय ने भारत के 12 स्थलों के लिए ऑडियो गाइड सुविधा ऐप ‘ऑडियो ओडिगोज’ की शुरुआत की

पर्यटन मंत्रालय ने भारत के 12 स्थलों के लिए ऑडियो गाइड सुविधा ऐप ‘ऑडियो ओडिगोज’ की शुरुआत की

 नई दिल्ली। देशव्यापी ‘पर्यटन पर्व 2019’ के दूसरे दिन आज नई दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम के दौरान पर्यटन मंत्रालय में सचिव योगेंद्र त्रिपाठी ने एएसआई की महानिदेशक श्रीमती ऊषा शर्मा की मौजदूगी में देश के 12 स्थलों (प्रतिष्ठित स्थलों समेत) के लिए एक ऑडियो गाइड सुविधा ‘ऑडियो ओडिगोज’ की शुरुआत की। दिल्ली की गोल गुंबद के पास पर्यटक सुविधाओं के विकास के लिए दिल्ली सरकार और रेसबर्ड टेक्नोलॉजी के बीच एक एमओयू का भी आदान-प्रदान किया गया।

इस अवसर पर योगेंद्र त्रिपाठी ने कहा कि यह पर्यटन पर्व का तीसरा संस्करण है और हमें आम लोगों से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। उन्होंने कहा कि हम इस सप्ताह के अंत तक एक लाख लोगों के आने की उम्मीद कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के विजन के अनुसार ही पर्यटन पर्व की व्यवस्थाओं में एक बार इस्तेमाल होने वाले प्लास्टिक का प्रयोग नहीं किया जा रहा है।

मीडिया से बातचीत में पर्यटन सचिव ने कहा कि पर्यटन मंत्रालय की ‘एक विरासत को अपनाओ, अपनी धरोहर, अपनी पहचान’aयोजना के तहत पर्यटक सुविधाओं के विकास के लिए आज 26 एमओयू का आदान-प्रदान हुआ है। इस परियोजना का लक्ष्य सभी हितधारकों के बीच तारतम्य विकसित करना और ‘जिम्मेदार पर्यटन’ को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय समुदायों/लोगों को सक्रिय भागीदारी के लिए साथ लाना है।

उन्होंने कहा कि इस परियोजना को मिली प्रतिक्रिया बहुत उत्साहजनक है। इसके लिए आगे आई एजेंसियों में न सिर्फ सरकारी और निजी इंडस्ट्री अथवा व्यक्ति विशेष, बल्कि स्कूल और कानूनी फर्में भी शामिल हैं। इससे पहले, इस परियोजना के तहत देश भर में 106 स्थलों के लिए 38 एजेंसियों को 42 लेटर्स ऑफ इंटेंट यानी आशयपत्र जारी किए गए। 23 स्थलों और दो तकनीकी पहलों के लिए 25 समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर भी हस्ताक्षर किए गए।

योगेंद्र त्रिपाठी ने कहा कि ‘एक विरासत को अपनाओ, अपनी धरोहर, अपनी पहचान’योजना पर्यटन मंत्रालय, संस्कृति मंत्रालय एवं भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) और राज्य सरकारों या केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासन के सामूहिक प्रयासों का परिणाम है। इसका उद्देश्य सरकारी कंपनियों, निजी क्षेत्र की कंपनियों तथा कार्पोरेट क्षेत्र के लोगों को हमारी विरासतों एवं पर्यटन को विकास के जरिये ज्यादा टिकाऊ बनाने, विश्व स्तरीय पर्यटन के लिए बुनियादी ढांचे के संचालन एवं रखरखाव, एएसआई/राज्य के तहत आने वाली विरासतों के पास सुविधाओं और देश के अन्य पर्यटन स्थलों की जिम्मेदारी उठाने में शामिल करना है।

उन्होंने कहा कि आज हमने पर्यटकों की सुविधा के लिए ऑडियो गाइड ‘ऑडियो ओडिगोज’ की शुरुआत की है। ऑडियो गाइड‘ओडिगो’ विजुअल और वॉयस ओवर सपोर्ट के साथ भारत सरकार द्वारा सत्यापित सामग्री पेश करता है। ‘ऑडियो ओडिगो’ की मदद से अब पर्यटक ज्यादा आनंद का अनुभव कर सकेंगे और यह उन्हें भारतीय संस्कृति एवं विरासत की ऐतिहासिक यात्रा कराएगा।‘ऑडियो ओडिगो’ ऐप में टूर के दौरान आसान नेवीगेशन यानी पथ-प्रदर्शन के लिए नक्शा दिया गया है। श्रोताओं को इतिहास के विभिन्न संस्करणों जैसे सारांश,  विस्तृत इतिहास और पॉडकास्ट की पेशकश की जाएगी। ऑडियो को उनकी पसंदीदा भाषा एवं इतिहास के संस्करण में चुना जा सकता है। ‘ऑडियो ओडिगो’ को अब सभी एंड्रायड और आईओएस मोबाइल फोन पर डाउनलोड किया जा सकता है।

पर्यटन महानिदेशक श्रीमती मीनाक्षी शर्मा ने मीडिया को बताया कि ऑडियो गाइड सुविधा ऑडियो ओडिगोज को 12 स्थलों पर इस्तेमाल किया जा सकेगा। इनमें राजस्थान का आमेर का किला, दिल्ली में चांदनी चौक, लाल किला, पुराना किला, हुमायूं का मकबरा, उत्तर प्रदेश में फतेहपुर सीकरी, ताज महल, गुजरात में सोमनाथ और धौलावीरा, मध्य प्रदेश में खजुराहो, तमिलनाडु में महाबलिपुरम और बिहार में महाबोधि मंदिर शामिल है। उन्होंने कहा कि यह ऐप रेसबर्ड टेक्नोलॉजी के साथ पिछले साल किए गए एमओयू का परिणाम है। कंपनी ने अपने सीएसआर के तहत इस ऑडियो गाइड ऐप को विकसित किया है। दिल्ली में 2 से 6 अक्टूबर के बीच पर्यटन पर्व मनाया जा रहा है।

 

Check Also

कानपुर में पीएम मोदी ने नमामि गंगे परियोजना की समीक्षा की

कानपुर में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज गंगा की सफाई के उद्देश्‍य से राष्‍ट्रीय गंगा परिषद की पहली ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *