Home / मनोरंजन / बॉलीवुड खबरें / थ्रिल, जुनून और एक्शन से भरपूर होगी ‘भयम’

थ्रिल, जुनून और एक्शन से भरपूर होगी ‘भयम’

 थ्रिलर एक्शन मूवी ‘भयम’ का फर्स्ट लुक मुंबई में लांच किया गया. ओम श्री एंटरटेनमेंट और शीश चित्रा एंटरटेनमेंट के बैनर तले फ़िल्म ‘भयम’ की घोषणा  एक भव्य पार्टी में फ़िल्म का  पोस्टर लांच के साथ किया गया. इस अवसर पर फिल्म की निर्मात्री गुलशन मोनजी, निर्देशक वीर नारायण, फिल्म के कलाकार गौरव चन्सोरिया, अंकिता कश्यप, बीना भट्ट, सिम्बा नागपाल, स्पर्श शर्मा, ऋतुराज सिंह के साथ अतिथि विशेष गायक शाहिद रफ़ी, अभिनेता मुश्ताक़ शेख़ और अली ख़ान भी उपस्थित थे.

फिल्म ‘भयम’ के लेख़क निर्देशक वीर नारायण हैं जो बाहुबली फेम निर्देशक राजामौली के साथ कई फिल्मों में करीब आठ वर्षो तक बतौर सहायक निर्देशक जुड़े रहे है.
फिल्म की निर्मात्री गुलशन मोनजी, संगीतकार नायब अली खान, कोरियोग्राफर इमरान, कार्यकारी निर्माता दीपक कोली और छायाकार साहिल जे अंसारी हैं. फिल्म में गौरव चंसोरिया, अंकिता, बेना, सिम्बा नागपाल, स्पर्श शर्मा, ऋतुराज सिंह और दीपराज राणा प्रमुख किरदारों में नजर आएंगे.

फिल्म ‘भयम’ एक हॉरर साइको थ्रिलर है. भयम शब्द का अर्थ भय है और फ़िल्म की कहानी किसी के लिए जुनून के बारे में है. इसमें श्री और मायरा की एक प्रेम कहानी है जो परिवारों के बीच दुश्मनी के कारण अब मौजूद नहीं है. श्री और मायरा फिल्म बनाने वाले छात्र थे जहां वे अपने अन्य दोस्तों के साथ एक हॉन्टेड पहाड़ियों पर अपनी प्रोजेक्ट के लिए शॉर्ट फिल्म के लिए शूट करने गए थे. जब वे शूटिंग के लिए पहाड़ियों में जाते हैं तो वहाँ कुछ रहस्यमय घटनाएँ शुरू हो जाती है और समूह के सदस्य गायब होने लगते हैं, किसी को एक दूसरे पर भरोसा नहीं रह जाता है. जुनून, रोमांच, हॉरर और एक्शन के साथ भयम में बहुत कुछ नया है.

इस अवसर पर निर्मात्री गुलशन मोनजी ने कहा कि भयम का कांसेप्ट बहुत हटकर है. लेखक निर्देशक वीर नारायण ने जब फिल्म की कहानी बतायी तो हम सब को लगा कि एक अच्छी बॉलीवुड फिल्म बनायी जा सकती है. फिल्म में नए अभिनताओं के साथ कई स्थापित कलाकार भी हैं.
फिल्म के निर्देशक वीर नारायण का कहना है कि मैं 14 साल से निर्देशन और फिल्म निर्माण से जुड़ा रहा हूँ. मैंने इस फिल्म के साथ आने के लिए सही समय का इंतजार किया है और मुझे लगता है कि यह बिल्कुल सही समय है जब दर्शक किसी फिल्म के कन्टेन्ट पर अधिक भरोसा करते हैं. मुझे और मेरी स्क्रिप्ट पर विश्वास करने के लिए निर्माता उमर शेख सर और गुलशन जी को धन्यवाद करना चाहता हूँ.

Check Also

गोल्डन पीकॉक पुरस्कार के लिए 20 देशो की 15 फिल्मो के बीच मुकाबला

आईएफएफआई) में सिनेमेटोग्राफर और एकेडमी आफ मोशन पिक्चर आर्टस एंड साइंस के पूर्व अध्यक्ष श्री ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *