Home / अर्थजगत / उपभोक्ता मूल्य सूचकांक पर आधारित खुदरा महंगाई दर जुलाई, 2019 में 3.15 फीसदी रही

उपभोक्ता मूल्य सूचकांक पर आधारित खुदरा महंगाई दर जुलाई, 2019 में 3.15 फीसदी रही

सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्‍वयन मंत्रालय के केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने आज जुलाई, 2019 के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) पर आधारित महंगाई दर के आंकड़े जारी किए। इस दौरान ग्रामीण क्षेत्रों के लिए सीपीआई आधारित महंगाई दर2.19 फीसदी (अनंतिम) रही, जो जुलाई2018 में 4.11 फीसदी थी। इसी तरह शहरी क्षेत्रों के लिए सीपीआई आधारित महंगाई दर जुलाई, 2019 में 4.22 फीसदी (अनंतिम) आंकी गयी, जो जुलाई 2018 में 4.32फीसदी थी। ये दरें जून 2019 में क्रमशः2.21 तथा 4.33 फीसदी (अंतिम) थीं।

केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने आज जुलाई, 2019 के लिए उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक (सीएफपीआई) पर आधारित महंगाई दर के आंकड़े भी जारी किए। इस दौरान ग्रामीण क्षेत्रों के लिए सीएफपीआई आधारित महंगाई दर 0.57 फीसदी (अनंतिम) रही जो जुलाई 2018 में 2.18 फीसदी थी। इसी तरह शहरी क्षेत्रों के लिए सीएफपीआई आधारित महंगाई दर जुलाई, 2019 में 5.61फीसदी (अनंतिम) आंकी गई जो जुलाई, 2018 में -0.36 फीसदी थी। ये दरें जून2019 में क्रमशः 0.43 तथा 5.63 फीसदी (अंतिम) थीं।

अगर शहरी एवं ग्रामीण दोनों ही क्षेत्रों पर समग्र रूप से गौर करें तो उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) पर आधारित महंगाई दर जुलाई, 2019 में 3.15 फीसदी (अनंतिम) आंकी गई है, जो जुलाई 2018 में 4.17फीसदी (अंतिम) थी। वहीं, सीपीआई पर आधारित महंगाई दर जून 2019 में 3.18फीसदी (अंतिम) थी। इसी तरह यदि शहरी एवं ग्रामीण दोनों ही क्षेत्रों पर समग्र रूप से गौर करें तो उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक (सीएफपीआई) पर आधारित महंगाई दर जुलाई, 2019 में 2.36 फीसदी (अनंतिम) रही है, जो जुलाई, 2018 में 1.30 फीसदी (अंतिम) थी। वहीं, सीएफपीआई पर आधारित महंगाई दर जून 2019 में 2.25फीसदी (अंतिम) थी।

सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्‍वयन मंत्रालय के केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने उपभोक्ता‍ मूल्य सूचकांक (सीपीआई) के लिए आधार वर्ष को 2010=100 से संशोधित करके 2012=100 कर दिया है। यह संशोधन जनवरी 2015 के लिए सूचकांकों को जारी किए जाने से प्रभावी किया गया है।

Check Also

2018-19 के लिए प्रमुख फसलों के 19.20 मिलियन टन अधिक उत्पादन का अनुमान

कृषि, सहकारिता तथा किसान कल्‍याण विभाग ने कल 2018-19 के लिए प्रमुख फसलों के उत्पादन का ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *