Home / सामाजिक/सांस्कृतिक / दुर्घटना पीड़ितों के मुफ्त आपातकालीन इलाज के लिए ‘आरवी एनकॉन’ की पहल

दुर्घटना पीड़ितों के मुफ्त आपातकालीन इलाज के लिए ‘आरवी एनकॉन’ की पहल

सैफी हॉस्पिटल के सहयोग से फ्री इमरजेंसी ट्रीटमेंट एवं रियायती दरों पर दवाइयां उपलब्ध कराई जाएंगी 

मुंबई: दुर्घटना पीड़ितों को मुफ्त आपातकालीन इलाज देने के लिए भारत की प्रमुख टेक्निकल मैनपावर आउटसोर्सिंग कंपनियों में से एक आरवी एनकॉन लिमिटेड ने हाल ही में मुंबई के सैफी हॉस्पिटल के साथ साझेदारी की घोषणा की है। तीन वर्ष के समझौते के तहत कंपनी निम्न आय वर्ग के लोगों के लिए ओपीडी में मुफ्त ट्रीटमेंट और अन्य सुविधाओं के लिए छह लाख रुपए सालाना भुगतान करेगी।

इस सहयोग के जरिये आरवी एनकॉन सैफी हॉस्पिटल के ‘फ्री आउट पेशेंट डिपार्टमेंट (ओपीडी)’ में आने वाले मरीजों का मुफ्त उपचार और चिकित्सकीय जांचों का खर्चा उठाएगी। यह मुख्य तौर पर उस तबके के लिए होगा, जो आपात परिस्थितियों में आते हैं और जांच/चेक-अप्स और उन्हें दी गई दवाओं का खर्च नहीं उठा सकते।

मुंबई में अलग-अलग रेलवे स्टेशनों पर हुई दुर्घटनाओं के शिकार हुए मरीजों के खर्च का भी आरवी एनकॉन पुनर्भुगतान करेगी। इसमें चर्चगेट, मरीन लाइंस, चरनी रोड और ग्रांट रोड शामिल है। इस पहल के तहत 12 मेडिकल टेस्ट और उनकी दवाओं को सैफी हॉस्पिटल में रियायती दरों पर दिया जाएगा और पात्र मरीजों के लिए यह खर्च आरवी एनकॉन उठाएगी। इसमें सीबीसी, ईएसआर, कॉलेस्ट्रॉल, ईसीजी और सीने के एक्स-रे सहित अन्य जांचें शामिल हैं।

आरवी एनकॉन लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर वीडी संघवी ने कहा, “आरवी एनकॉन में हम यह मानते हैं कि अच्छी और गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा देखभाल मिलना हर व्यक्ति का अधिकार है। हालांकि, अक्सर जानकारी की कमी, उच्च लागत और सुविधाओं तक पहुंच के कारण, जरूरतमंद लोग आपात स्थितियों में भी बुनियादी स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित रह जाते हैं। हम इस कॉज के लिए सैफी अस्पताल जैसे एक उच्च-प्रतिष्ठित चिकित्सा संस्थान के साथ साझेदारी करके खुश हैं। हमें यकीन है कि इस पहल के माध्यम से कई जरूरतमंदों को लाभ होगा।”

Check Also

स्वच्छता ही सेवा’ पखवाड़े में दूसरे दिन प. रे. पर ‘स्वच्छ संवाद’ की संकल्पना

सिंगल यूज प्लास्टिक को खत्म करने पर रहा विशेष फोकस मुंबई। स्वच्छता ही सेवा पखवाड़े ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *