Home / Headline / Sons #ShareTheLoad : लार्जेस्‍ट लॉन्ड्री लेसन के लिए एरियल इंडिया ने बनाया वर्ल्ड रेकॉर्ड्स

Sons #ShareTheLoad : लार्जेस्‍ट लॉन्ड्री लेसन के लिए एरियल इंडिया ने बनाया वर्ल्ड रेकॉर्ड्स

अनिल कपूर-मंदिरा बेदी की मौजूदगी में अगली पीढ़ी को #ShareTheLoad के लिए सक्षम बनाने की पहल

मुंबई: अपने नवीनतम अभियान Sons #ShareTheLoad के समापन के ऐतिहासिक उत्सव में, एरियल इंडिया ने आज के बेटों को लार्जेस्‍ट लॉन्‍ड्री लेसन प्रदान करने का प्रयास किया और गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड सर्टिफिकेट हासिल किया, ताकि वे भविष्‍य के बराबर भागीदार बन सकें। इस अभियान में प्रसिद्ध बॉलीवुड स्टार, अभिनेता, पति और साथ ही साथ एक सम्‍पूर्ण पिता – अनिल कपूर, ने उदाहरण द्वारा और प्रतिभागियों को प्रोत्साहित कर इसका नेतृत्‍व किया। एरियल ने इस वर्ष की शुरुआत में, वर्तमान पीढ़ी से अपने बेटों की परवरिश भी उसी तरह से करने, जिस तरह से वे अपनी बेटियों की परवरिश कर रहे हैं, के आग्रह के साथ, अपने #ShareTheLoad अभियान के तीसरे संस्करण को लॉन्च किया, ताकि अगली पीढ़ी बेहतर समान जीवन जी सके। इस विचार के समर्थन में, सेलेब्रिटी मां मंदिरा बेदी युवाओं को आवश्यक कौशल प्रदान करने के लिए लार्जेस्‍ट लॉन्‍ड्री लेसन में शामिल हुईं और अपने बेटे की परवरिश #ShareTheLoad के मूल्यों के आधार पर करने का वचन दिया। रिकॉर्ड के लिए, 400 बेटे लॉन्‍ड्री करने के तरीके को सीखने के द्वारा इस कार्य के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए आगे आए, क्योंकि लोड साझा करने की शुरूआत के लिए एरियल लॉन्‍ड्री एक सबसे सरल कार्य है।

अनिल कपूर ने इस वैश्विक रिकॉर्ड का हिस्सा बनने पर उत्‍साहित होते हुए और आज के बेटों को और प्रोत्साहित करने पर टिप्पणी करते हुए कहा, “बच्चे युवा उम्र में ही, ज्‍यादातर मूल्यों को आत्मसात कर लेते हैं। हमे सही तरीके से पालने के लिए मैं अपनी मां का शुक्रिया अदा करना चाहता हूँ, इसी कारण से जब मैंने सुनीता से शादी की, तो उनका सहयोग करना स्वाभाविक रूप से मेरे अन्‍दर था। आज हमने प्रयास किया है कि यह मूल्‍य हमारे बच्‍चों में भी आत्‍मसात किये जाये, जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि सभी जेन्‍डर के बच्‍चों की परवरिश और विश्‍वास #ShareTheLoad के मूल्‍यों को प्रदर्शित कर सके। मुझे बहुत खुशी है कि मेरी बेटी ने भी एक ऐसे व्यक्ति से शादी करने का फैसला किया जो सपनों और निर्णयों को साझा करने में विश्वास करता है। आज, मुझे खुशी है कि मैं लार्जेस्‍ट लॉन्‍ड्री लेसन के गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के अवसर पर उपस्थित हूं। यह एरियल द्वारा लिया गया एक क्रांतिकारी कदम है, जो भविष्‍य में हमारे घरों में समानता लाने का कारण बनेगा! #ShareTheLoad के लिए प्रतिबद्ध होना महत्वपूर्ण है और इससे देश भर के सभी घरों में खुशहाली आयेगी!”

मंदिरा बेदी, जो घरेलू लैंगिक समानता के समर्थन में काफी मुखर रही हैं, ने आगे कहा, “एक युवा बेटे की मां के रूप में, मैं विश्वास से कह सकती हूं कि यह अभियान और इसके कारणों ने मेरे जैसे बहुत सी युवा माताओं को प्रतिध्वनित किया है। दंपतियों में #ShareTheLoad के बारे में सीखना जीने का एक तरीका होना चाहिए और इसलिए इसे प्रभावी युवा उम्र से ही सिखाया जाना चाहिए, जिससे कि यह एक स्‍वाभाविक आदत बन जाए। मुझे बहुत खुशी है कि एरियल ने लैंगिक समानता को प्रोत्साहित करने के लिए यह पहल की है, और आज यहाँ के नौजवानों पर गर्व है, जो लार्जेस्ट लॉन्‍ड्री लेसन में भाग लेकर भारत के युवा बेटों के लिए एक बेहतरीन मिसाल कायम कर रहे हैं!”

सोनाली धवन, मार्केटिंग डायरेक्टर एण्‍ड फैब्रिक केयर लीडर, पीएंडजी इंडिया, ने कहा, “#ShareTheLoad ने हमेशा ऐसे सवाल जो दर्शकों को सोचने, आत्‍मनिरीक्षण करने और अमल करने के लिए बाध्‍य किया है, द्वारा घरेलू असमानता को दूर करने की कोशिश की है। Sons#ShareTheLoad के साथ, हमने युवा पीढ़ी पर ध्यान केंद्रित किया है, जिन्‍हें अगर एक संतुलित तरीके से पाला जाये, तो वह बड़े होकर समानता की पीढ़ी के रूप में विकसित होंगे – इसकी जिम्मेदारी माता-पिता की पीढ़ी पर निर्भर करती है। हम युवा पीढ़ी को जिम्मेदारियां उठाने के लिए सक्षम बनाना चाहते हैं और जो उनके लिए दिलचस्‍प और लुभावना हो। लार्जेस्‍ट लॉन्‍ड्री लेसन के लिए गिनीज वर्ल्ड रेकॉर्ड्स सर्टिफिकेट प्राप्त करने का प्रयास एक समान कल बनाने की तरफ हमारा एक कदम है, जहां अगली पीढ़ी घरेलू समानता प्रदर्शित करे। एरियल परिवर्तन का चेहरा बना रहेगा क्योंकि एरियल के साथ, लॉन्‍ड्री बहुत सरल हो जाती है जिससे किसी के पास लोड साझा नहीं करने का कोई कारण नहीं रह जाता है! ”

24 जनवरी, 2019 को शुरू किए गए Sons #ShareTheLoad अभियान ने राष्ट्रीय स्तर पर 73 एमएम व्‍यूज प्राप्‍त किये हैं! अपना समर्थन प्रकट करने के लिए प्रसिद्ध चेहरों और विभिन्‍न दंपतियों की मेजबानी के साथ एरियल इंडिया को व्‍यापक समर्थन प्राप्‍त हुआ है। इनमें राजकुमार राव, पत्रलेखा, ज्वाला गुट्टा, रवि दुबे, सरगुन मेहता, सिद्धांत चतुर्वेदी, नेहा धूपिया, अंगद बेदी, और विश्‍वस्‍तरीय नाम शेरिल सैंडबर्ग, फेसबुक के सीओओ और एरियाना हफिंगटन, द हफिंगटन पोस्ट के संस्थापक जैसी हस्तियां शामिल हैं। अन्य ब्रांड जैसे एपलाइंस अग्रणी व्हर्लपूल, पब्लिशिंग हाउस नवनीत प्रकाशन, पीवीआर, हैलो इंग्लिश लैंग्वेज एप्लीकेशन, बिग बाजार, मेट्रो कैश एंड कैरी, परिवारों में समानता के प्रति अपनी एकजुटता दिखाने के लिए इस प्रयास में शामिल हुए।

#ShareTheLoad अभियान के तीसरे चरण में कई दंपतियों को साथ लाकर घरेलू समानता के संदेश को सभी में फैलाया गया। एरियल ने जेन्‍डर समानता के लिए समान रंग की किताबें प्रकाशित करने हेतु नवनीत प्रकाशन के साथ करार किया। एरियल ने सन-डे (SON-DAY) की बड़ी ही सरल अवधारणा प्रस्‍तुत की, जिसके तहत उन्होंने भारत के बेटों से अपील की, कि वे घरेलू कामों को सीखने के लिए अपने सन्डे को समर्पित करें और घरेलू जिम्मेदारियों को निभाने में सक्षम बनें। ब्रांड ने युवा लड़कों से अपील करने और उनकी रूचि में सहायक होने के लिए उनसे बात करने, ‘क्यों’ और ‘कैसे’ लोड साझा करने और लॉन्‍ड्री के साथ शुरू करने पर! एक रैप सॉन्‍ग लॉन्च किया। एरियल ने अधिकतम पहुंच वाले बिन्‍दु, महाराष्‍ट्र के ऑटो रिक्शाओं, के साथ भी इस संदेश को ज्‍यादा से ज्‍यादा और दूर तक प्रसारित करने के लिए साझेदारी की है, कि जब एक लड़का घर पर सीखता है, तो समाज बेहतर तरीके से आगे बढ़ता है!

एरियल का कहना है कि वर्ष 2015 में, जब हमने यह अभियान लॉन्‍च किया था, तो हमें पता चला कि 79% पुरुष सोचते हैं कि घरेलू कामकाज महिलाओं का काम है। वर्ष 2016 में, 63% विवाहित पुरुष सोचते थे कि घरेलू कामकाज महिला/बेटी की जिम्‍मेदारी है, जबकि ‘बाहर’ के सभी काम पुरूष/बेटे का काम है। वर्ष 2018 में, यह संख्या घटकर 52% रह गई। वर्तमान में पहले से कई अधिक पुरुष लोड साझा कर रहे हैं। हालांकि, हम अभी भी एक समान भविष्य की आदर्श परिस्थितियों से कई कदम दूर हैं। #ShareTheLoad के नए जारी किए गए संस्करण ने कई माता-पिता, नवविवाहित जोड़ों, प्रभावितों को प्रतिध्वनित किया है और इसने पूरे भारत में दर्शकों से जबरदस्त समर्थन और प्रशंसा प्राप्त की है।

एरियल वर्ष 2015 से ही घरों के भीतर असमानता की वास्तविकता का पता लगा रहा है, और उनके 2019 अभियान Sons#ShareTheLoad के साथ एरियल ने एक प्रासंगिक सवाल उठाया है, “क्या हम अपने बेटों को वह सब सिखा रहे हैं जो हम अपनी बेटियों को सिखाते हैं।” एरियल का मानना है कि पारिवारिक असमानता के कारकों में एक प्रमुख कारक यह है कि आज के बेटों को घर का लोड साझा करने के लिए न सिखाया जाता है और न उन्‍हें समर्थ बनाया जाता है। यह आज के बेटे हैं जो कल के पति बनेंगे और यह महत्वपूर्ण है कि उन्हें घर के काम जैसे लान्‍ड्री, कुकिंग, आदि भी सिखाये जायें जिससे कि हम एक अधिक संतुलित और समान समाज की दिशा में आगे बढ़ने के लिए समर्थ हो सकें। एरियल ने लान्‍ड्री के रूप में परिवारों में असमानता के खिलाफ इस अभियान को निरन्‍तर जारी रखा है।

Check Also

सीबीआई ने किया पी चिदंबरम को गिरफ्तार

सीबीआई ने पी चिदंबरम को गिरफ्तार कर लिया है  पहले पी चिदंबरम को उनके दिल्ली ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *