Home / अर्थजगत / प्लॅनिस ने अगली पीढ़ी का आरओवी माईक्रौस लॉन्च किया

प्लॅनिस ने अगली पीढ़ी का आरओवी माईक्रौस लॉन्च किया

भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के निर्देशक (रिफाइनरी) श्री आर रामचंद्रन ने  किया अनावरण

 भारत में अंतर्जलीय रोबोटिक्स निरीक्षण समाधान के अग्रदूत प्लॅनिस टेक्नोलॉजीज ने अपना सबसे उन्नत दूर संचालित वाहन (आरओवी) माईक्रौस लॉन्च किया। ये नया उत्पाद प्रसंस्करण उद्योगों, पेट्रोकेमिकल रिफाइनरियों और डीसैलिनेशन प्लांट्स को बेहतर अंतर्जलीय निरीक्षण समाधान प्रस्तुत करने हेतु तैयार है। भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) की स्टार्टअप स्कीम परियोजना अंकुर के तहत समर्थित प्लॅनिस ने बीपीसीएल दल की सहायता से और कई क्षेत्रों के बारे में जानकारी एकत्रित करके माईक्रौस का निर्माण किया है। बीपीसीएल के निदेशक, श्री आर रामचंद्रन जी ने आरओवी माईक्रौस को लॉन्च किया।

लॉन्च के दौरान मीडिया को संबोधित करते हुए आर रामचंद्रन ने कहा: “मुझे यकीन ​​है कि भारत की संपन्न स्टार्ट-अप पारिस्थितिकी तंत्र आने वाले दशक में हमारी अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान देगी। प्लॅनिस जैसे स्टार्ट-अप ने कई गंभीर प्रौद्योगिकी समाधान विकसित किए हैं जो पहले ही तेल तथा गैस जैसे प्रमुख औद्योगिक क्षेत्रों में काफी लाभदायक साबित हो रहे हैं। उन सबको हमारी शुभकामनाएं।”

प्लॅनिस टेक्नोलॉजीज के सीटीओ विनीत उपाध्याय ने कहा: “हमें माईक्रौस लॉन्च करने की खुशी है, जिसे हम आज बड़े ही गर्व के साथ अपनी सबसे उन्नत स्वदेश निर्मित मिनी-आरओवी कह सकते हैं। बाजार की स्थितियों को समझने और पिछले 3 वर्षों में पिछले उत्पादों से अनुभव प्राप्त करने के बाद, हमने माईक्रौस पर काम करना शुरू किया। हमें एक ग्राहक केंद्रित उत्पाद प्रस्ताव का विकास करके बेहद प्रसन्नता हुई है जो अंतर्जलीय परिसंपत्ति मालिकों को डेटा संचालित निर्णय लेने और रखरखाव तथा मरम्मत का पूर्वानुमान लगाने में मदद करेगा। माईक्रौस के साथ हम भारत के अलावा अन्य भौगोलिक क्षेत्रों पर भी ध्यान दे रहे हैं।“

माईक्रौस अगली पीढ़ी का मिनी-ऑब्जर्वेशन श्रेणी का पोर्टेबल आरओवी है जिसे नवीनतम नवाचारों और अत्याधुनिक तकनीकों से एक सुगठित और मजबूत डिजाइन में बनाया गया है। इसका ढांचा बेहद हल्का, रग्ड और मॉड्यूलर है और साथ ही थ्रस्ट और वजन का अनुपात अत्यंत दक्ष है जो इसे एक इंजीनियर्ड श्रेष्ठ कृति बनाता है। माईक्रौस की लंबे पगहे की जरूरतों के अनुसार डिजाइन किया गया है, जो अधिक गहराई, गंदले पानी जैसी बेहद चुनौतीपूर्ण स्थितियों और प्रसंस्करण उद्योगों और डीसैलिनेशन प्लांट्स द्वारा उपयोग की जाने वाली लंबी पाइपलाइनों में डेटा संग्रह करने की क्षमता रखता है। प्लॅनिस द्वारा बनाए गए ये डेटा बिंदु और विश्लेषणात्मक डैशबोर्ड खराबियों का पूर्वानुमान लगाने और परिसंपत्ति के मालिकों को रखरखाव और मरम्मत की योजना बनाने में मदद करेगा।

Check Also

लघु व्यवसायों के लिए शिपरॉकेट की ‘अर्ली सीओडी’ सुविधा

मुंबई, :ईकॉमर्स सेगमेंट में छोटे कारोबारियों के सामने आने वाली सबसे बड़ी चुनौतियों में से ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *