Home / धर्म-अध्यात्म / पर्यटन / सिंगापुर टूरिज्म बोर्ड ने ओला के साथ किया सहयोग

सिंगापुर टूरिज्म बोर्ड ने ओला के साथ किया सहयोग

मुंबई। सिंगापुर टूरिज्म बोर्ड (एसटीबी) ने कार सुविधा प्रदान करने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक, ओला के सहयोग किये जाने की घोषणा की। इस सहयोग के तहत, ओला ने पश्चिम और मध्य भारत के 19 शहरों1 अपने ग्राहकों के लिए अपने अपने प्लेटफॉर्म्स पर 1 से 15 दिसंबर तक अभियाने चलायेगा। इस अभियान के जरिए ओला के ग्राहकों को सिंगापुर2 की सैर करने का मौका मिल सकेगा। ओला ग्राहकों को कंटेस्ट में भाग लेने के लिए ओला की कम-से-कम 3 राइड लेना होगा और प्रोमोकोड “SINGAPORE” दर्ज करना होगा। तीन जोड़ी विजेताओं का चयन किया जायेगा और 31 दिसंबर 2018 तक उन्हें ईमेल के जरिए सूचित किया जायेगा। इस अभियान के अलावा, एसटीबी के ब्रांड ‘पैशन मेड पॉसिबल’ को ओला के प्लेटफॉर्म्स पर प्रदर्शित कर इसे आगे मजबूत किया जायेगा।

भारतीय ग्राहकों के लिए मोबिलिटी को तकनीक के जरिए पुनर्परिभाषित करने के साथ, एसटीबी का लक्ष्य इस पार्टनरशिप के जरिए ओला के प्लेटफॉर्म पर भारत के डिजिटल देशवासियों तक पहुंचना है। एसटीबी के क्षेत्रीय निदेशक – दक्षिण एशिया, मध्य पूर्व और अफ्रीका (एसएएमईए), जीबी श्रीथर ने कहा, ‘‘ओला भारतीय ग्राहकों के दैनिक जीवन का अनिवार्य अंग है। यह साझेदारी हमारी अनोखी विपणन पहलों में से एक है, ताकि भारतीय ग्राहकों के साथ जुड़ सकें और उन्हें सिंगापुर आने व हमारी विभिन्न पेशकशों का अनुभव करने के लिए लुभा सकें। उदाहरण के लिए, भारतीय मिलेनियल्स डिजिटल स्पेस को अपने सोशल सर्किल; अपने दोस्तों और रिश्तेदारों का विस्तार मानते हैं। उन्हें शारीरिक रूप से नजदीक रहने या अन्य औपचारिक जुड़ावों के बजाये साझा शौक एवं जुनून के जरिए अधिक बेहतर तरीके से परिभाषित किया जाता है। ओला के साथ हमारा करार इन भिन्न-भिन्न ‘‘पैशन ट्राइब्स’’ पर लक्षित अनुभवों को प्रदर्शित करने हेतु सिंगापुर के लिए एक असाधारण अवसर प्रदान करना है।

ओला के बिजनेस हेड, शेखर दत्ता ने कहा, ‘‘हमें अपने ग्राहकों के लिए शानदार राइडिंग अनुभव प्रदान करने पर गर्व है। हमें सिंगापुर टूरिज्म बोर्ड के साथ जुड़ने की खुशी हैं, ताकि अपने ग्राहकों को सिंगापुर में जाकर वहां की संस्कृति, खान-पान और विभिन्न पेशकशों को सराहने और उसमें तल्लीन हो जाने का मौका दे सकें, जहां दुनिया भर के पर्यटक आकर आनंद लेते हैं।’’

वर्ष 2017 में भारत से सिंगापुर जाने वाले पर्यटकों की संख्या रिकॉर्ड 1.27 मिलियन से भी अधिक रही, जो आगंतुकों के आगमन के अनुसार वर्ष-दर-वर्ष आधार पर 16 प्रतिशत अधिक है और सिंगापुर के लिए भारत तीसरा सबसे बड़ा आगंतुक आगमन सोर्स मार्केट बन चुका है। एसटीबी को यह बताते हुए खुशी हो रही है कि जनवरी से सितंबर 2018 तक, सिंगापुर आने वाले भारतीय आगंतुकों की संख्या 1.1 मिलियन रही, जो वर्ष-दर-वर्ष आधार पर 14.6 प्रतिशत अधिक है।

अनुलग्नक ए – पैशन ट्राइब्स

एसटीबी ने संभावित ग्राहकों की जीवनशैलियों, रूचियों एवं उनके यात्रा उद्देश्यों के आधार पर उन्हं  एक साथ लाकरपैशन ट्राइब्स नामक समूह बनाया है। इस तरह की सात ‘‘पैशन ट्राइब्स’’ मौजूद हैं।

कल्चर शेपर्स नया दृष्टिकोण हासिल करने हेतु स्वयं को कला एवं संस्कृति में तल्लीन रखते हैं।

एक्शन सीकर्स एक्शन और रोमांच चाहते हैं, उन्हें चुनौतियों भरे काम में मजा आता है।।

सोशलाइजर्स नाइटलाइफ और मनोरंजक दृश्य का आनंद लेते हैं और वे इन सब के साथ संगीत को मिलाकर अनूठाआनंद लेते हैं।

फूडिज को खाना-पीना, खाना पकाना और डाइनिंग पसंद है और वे नये-नये तरीकों से स्वाद का अनुभव करनाचाहते हैं।

कलेक्टर्स शॉपिंग करना और विशिष्ट पहचान रखने वाली चीजों का संग्रह करना चाहते हैं।

एक्सप्लोरर्स को अलग-अलग नई-नई जगहों पर जाने और उनके बारे में जानने में मजा आता है और वे नई-नईकहानियां बना पाने में समर्थ होते हैं।

प्रोग्रेसर्स वे व्यावसायिक यात्री होते हैं जो एक-दूसरे से जुड़ने, सहयोग करने और नये तरीकों की तलाश करना चाहतेहैं।

Check Also

कैरेबियन शिप्स ‘स्पेक्ट्रम ऑफ़ द सीज़’ और ‘एक्सप्लोरर ऑफ़ द सीज़’ का भारत में होगा आगमन

मुंबई:भारत में क्रूज़ टूरिज्म की लोकप्रियता में धीरे-धीरे वृद्धि देखी गई है और अब, टाइरन ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *