Home / Headline / कुम्भलगढ़ किले में 36 कौम के लोगों को निःशुल्क प्रवेश की मांग

कुम्भलगढ़ किले में 36 कौम के लोगों को निःशुल्क प्रवेश की मांग

सोशल मीडिया पर चलाया जा रहा अभियान

मुंबई। मेवाड़ के यशश्वी महाराणा कुम्भा की सूझबूझ व प्रतिभा का अनुपम स्मारक कुम्भलगढ़ दुर्ग में 36 कौम के लोगों को निःशुल्क प्रवेश को लेकर सोशल मीडिया पर इन दिनों एक अभियान चलाया जा रहा है। महाराणा प्रताप की जन्म स्थली कुम्भलगढ़ एक तरह मेवाड़ की संकटकाली राजधानी रहा है। सोशल मीडिया में घूम रहे मैसेज का प्रारूप कुछ इस तरह का है-

कुम्भलगढ़ का किला भारत के सभी किलों में एक विशिष्ठ स्थान रखता है। यह भारत वर्ष का एकमात्र किला है जो हमेशा अजेय रहा। इस किले पर अधिकार प्राप्त करने में मुगल भी सफल नहीं हो पाये। इस किले को बनाने में कुंभलगढ़ के तत्कालीन सभी 36 कौम के लोगों ने किसी ना किसी रूप में निश्चित रूप से सहयोग किया होगा। तो क्या कुम्भलगढ़ किले के निर्माण में सहयोग देने वाले उन तमाम जाने-अनजाने कुम्भलगढ़वासियों के सम्मान में 36 कौम के सभी नागरिकों को निःशुल्क प्रवेश नहीं मिलना चाहिए ?

प्रशासन से हमारा निवेदन है कि सभी कुंभलगढ़ तहसील के निवासियों के लिए इस अजेय किले में निःशुल्क प्रवेश की व्यवस्था करने में सहयोग करे। मैं अपने स्थानीय बंधओं से कहना चाहूंगा कि अभी चुनाव का समय है और सभी जनप्रतिनिधि आम लोगों के घरों तक खुद पहुंच रहे हैं। एसे में आप उनसे ये बात करके कुम्भलगढ़ किले में कुंभलगढ़ तहसील के लोगों के निःशुल्क प्रवेश करवाने में उनके सहयोग का वादा लीजिए। हमारी इस मांग को मुंबई सहित अन्य शहरों में रहने वाले कुम्भलगढ़ मूल के लोगों की सभा-संस्थाओं ने भी अपना पूर्ण समर्थन दिया है।

एक बार पुनः आप सभी कुम्भलगढ़ के मूल निवासियों से विनती है ये मैसेज आगे से आगे भेजकर अपना फर्ज निभायें, ताकि इस गौरवशाली विरासत में अपने पूर्वजों के योगदान से हमारी पीढ़ी दर पीढ़ी जुड़ा महसूस कर गौरवान्वित होती रहे।

धन्यवाद

आपका एक भाई

कुम्भलगढ़ तहसील का मूल निवासी

जय मेवाड़

प्रस्तुति – भानु प्रजापत

Check Also

पीएम मोदी आज गुजरात दौरे पर

2019 के लोकसभा चुनाव में शानदार जीत के बाद भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता ...

One comment

  1. गोटू बन्ना उमरवास

    सहमत हुकुम ओनली कुंम्भलगढ़ निवासीयो के लिए फ्री हो किल्ला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *